Showing 3 Result(s)
Features

डॉ. अंबेडकर का बहुमूल्य मशवरा – सिखों के सवैशासन के अधिकार पर

s ajmer singh

  सरदार अजमेर सिंह यह लेख सरदार अजमेर सिंह की किताब ‘बीसवीं सदी की सिख राजनीती – एक गुलामी से दूसरी गुलामी तक’  से लिया गया है । पंजाब के विभाजन के बाद पूरबी पंजाब में अलग अलग वर्गों की जनसँख्या के अनुपात में खासी तब्दीली आ गई थी। पश्चिमी पंजाब और उत्तर पश्चिमी सरहदी इलाके की हिन्दू और …

Thought

Dr. Ambedkar’s Invaluable Advice on the Sikh Right to Self-rule

s ajmer singh

  Sardar Ajmer Singh This article is an excerpt from S. Ajmer Singh’s book “Biswi Sadi Ki Sikh Rajneeti: Ek Ghulami Se Dusri Ghulami Tak” (The Sikh Politics of the 20th Century: From One Slavery to Another) On the circumstances emerging after the partition of Punjab, and the creation of a Self-ruled Sikh state After …